Total Pageviews

30 October 2017

बासमती चावल के साथ गैर बासमती चावल का निर्यात ज्यादा

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष 2017-18 के पहली छमाही में बासमती चावल के साथ ही गैर बासमती चावल के निर्यात में भी बढ़ोतरी हुई है। एपिडा के अनुसार अप्रैल से सितंबर 2018 के दौरान बासमती चावल का निर्यात बढ़कर 21.31 लाख टन का हो चुका है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2016-17 की समान अवधि में इसका निर्यात 20.66 लाख टन का ही हुआ था।
गैर बासमती चावल का निर्यात चालू वित्त वर्ष 2017-18 की पहली छमाही में बढ़कर 41.41 लाख टन का हो चुका है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2016-17 की समान अवधि में इसका निर्यात केवल 34.16 लाख टन का ही हुआ था।
उत्पादक मंडियों में बासमती धान की दैनिक आवक बढ़ रही है तथा स्टॉकिस्टों की सक्रियता से भाव तेज बने हुए हैं, हालांकि बासमती चावल में इस समय निर्यात सौदे सीमित मात्रा में ही हो रहे हैं इसलिए बासमती चावल की कीमतें लगभग स्थिर बनी हुई हैं। सोमवार को दिल्ली की नरेला मंडी में बासमती धान की आवक सवा लाख बोरी की हुई जबकि पूसा 1,121 बासमती धान के भाव 3,000 से 3,270 रुपये और पूसा 1,509 किस्म के धान का भाव 2,600 से 3,000 रुपये प्रति क्विंटल रहा।.... आर एस राणा

No comments: