Total Pageviews

11 June 2018

रबी में दलहन की रिकार्ड खरीद, कीमतों पर बनेगा दबाव

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू रबी में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर रिकार्ड 25 लाख टन से ज्यादा दलहन की खरीद हो चुकी है। नेफेड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चालू रबी सीजन में समर्थन मूल्य पर दालों की सबसे ज्यादा खरीद मध्य प्रदेश और राजस्थान से हुई है।
नेफेड समर्थन मूल्य पर चालू रबी में रिकार्ड 22.58 लाख टन चना की खरीद कर चुकी है जिसमें सबसे ज्यादा हिस्सेदारी मध्य प्रदेश की 14.31 लाख टन और राजस्थान की 3.95 लाख टन की है। इसके अलावा नेफेड ने समर्थन मूल्य पर 2.19 लाख टन मसूर खरीदी है। मसूर का उत्पादन मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में होता है, अत: नेफेड ने मध्य प्रदेश से एमएसपी पर 2.16 लाख टन मसूर खरीदी है जोकि कुछ खरीद का 90 फीसदी से ज्यादा हिस्सा है। इसके अलावा उड़द और मूंग की खरीद सीमित मात्रा में ही हुई है। इन राज्यों से एमएसपी पर खरीद अभी चल रही है अत: आगे खरीद में और बढ़ोतरी होगी।
केंद्र सरकार खरीद की तारिख को तीन बार बढ़ा चुकी है
केंद्र सरकार भी चुनावी साल में किसानों की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहती, इसलिए मध्य प्रदेश से दलहन की एमएसपी पर खरीद की तारिख को तीन बार केंद्र सरकार बढ़ाने की अनुमति दे चुकी है। राज्य से समर्थन मूल्य पर दालों की खरीद 20 जून तक की जायेगी, जबकि पहले 9 जून तक खरीद की जानी थी।
उत्पादक मंडियों में भाव समर्थन मूल्य से नीचे
प्रमुख उत्पादक राज्यों की मंडियों में चना के भाव 3,200 से 3,400 रुपये प्रति क्विंटल चल रहे हैं जबकि केंद्र सरकार ने चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 के लिए चना का समर्थन मूल्य 4,400 रुपये प्रति क्विंटल (बोनस सहित) घोषित किया हुआ है। इसी तरह से उत्पादक मंडियों में मसूर के भाव 3,000 से 3,100 रुपये प्रति क्विंटल रहे हैं जबकि मसूर का समर्थन मूल्य 4,250 रुपये प्रति क्विंटल (बोनस सहित) तय किया हुआ है।
दलहन का रिकार्ड उत्पादन का अनुमान
कृषि मंत्रालय के तीसरे आरभिंक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2017-18 में चना का रिकार्ड उत्पादन 111.6 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 93.8 लाख टन का हुआ था। मंत्रालय के अनुसार फसल सीजन 2017-18 में दलहन का रिकार्ड 245.1 लाख टन उत्पादन होने का अनुमान है जबकि इसके पिछले साल 231.3 लाख टन का ही उत्पादन हुआ था ।............  आर एस राणा

No comments: