Total Pageviews

12 May 2018

रुपये के मुकाबले डॉलर मजबूत, सोया डीओसी की निर्यात मांग बढ़ी

आर एस राणा
नई दिल्ली। रुपये के मुकाबले डॉलर लगातार मजबूत बना हुआ है, जिससे सोया डीओसी के निर्यात सौदों में तेजी आई हैं। रुपये के मुकाबले डॉलर अभी मजबूत बना रहने की संभावना है ​इसलिए डीओसी के निर्यात में आगामी दिनों में और बढ़ोतरी होने का अनुमान है। शुक्रवार को एक डॉलर की कीमत 67.10 रुपये रही।
मई से जुलाई के दौरान बढ़ेगा सोया डीओसी का निर्यात
सोयाबीन प्रोसेसिंग यूनिट साई सिमरन फूड्स लिमिटेड के डायरेक्टर नरेश गोयनका ने बताया कि डॉलर की मजबूती से ​सोया डीओसी के निर्यात में तेजी आई है। हालांकि चालू सीजन में अप्रैल तक कुल निर्यात पिछले साल की तुलना में कम रहा है लेकिन मई से जुलाई के दौरान करीब 7 से 8 लाख टन सोया डीओसी का निर्यात होने का अनुमान है। सोया डीओसी के भाव शुक्रवार को महाराष्ट्र में एक्स फैक्ट्री 32,000 रुपये और मध्य प्रदेश में 31,000 रुपये प्रति टन रहे। उन्होंने बताया कि सोयाबीन की कीमतों में इस दौरान ज्यादा तेजी की उम्मीद नहीं है क्योंकि घरेलू मंडियों में बकाया स्टॉक ज्यादा बचा हुआ है।
सोयाबीन की आवक 12 फीसदी ज्यादा
सोयाबीन प्रोसेसर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (सोपा) के अनुसार चालू फसल सीजन में सोयाबीन की आवक अप्रैल के आखिर तक 12 फीसदी बढ़कर 66.50 लाख टन की हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इसकी आवक 59.50 लाख टन की ही हुई थी। सोया डीओसी का निर्यात चालू फसल सीजन के अक्टूबर-17 से अप्रैल-18 के दौरान 11.44 लाख टन का ही हुआ है जोकि पिछले फसल सीजन की समान अवधि के 13.94 लाख टन से कम है।
घरेलू बाजार में  सोया डीओसी के भाव तेज
साल्वेंट एक्सट्रेक्टर्स एसोसिएशन आॅफ इंडिया (एसईए) के अनुसार भारतीय बंदरगाह पर सोया डीओसी के भाव अप्रैल में औसतन 487 डॉलर प्रति टन रहे, जबकि पिछले साल अप्रैल में इसके भाव 386 डॉलर प्रति टन थे।
सोयाबीन में ज्यादा तेजी नहीं
मध्य प्रदेश की इंदौर मंडी में शुक्रवार को सोयाबीन के भाव 3,750 से 3,775 रुपये प्रति क्विंटल रहे। व्यापारियों के अनुसार प्लांटों के पास सोयाबीन का बकाया स्टॉक ज्यादा बचा हुआ है, जबकि नई फसल की आवक अक्टूबर में बन जायेगी। वैसे भी चालू खरीफ में मानसूनी बारिश अच्छी होने का अनुमान है। इसलिए सोयाबीन के मौजूदा भाव में बड़ी तेजी की उम्मीद नहीं है।.....   आर एस राणा

No comments: