Total Pageviews

03 May 2018

गन्ना किसानों को 5.50 रुपये की दर से मिलेगी सब्सिडी

आर एस राणा
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने गन्ना किसानों के बकाया भुगतान को चुकता करने के लिए 5.50 रुपये प्रति क्विंटल की दर से सब्सिडी देने को मंजूरी दे दी है। किसानों को प्रोडक्शन लिंक्ड सब्सिडी दी जायेगी। चीनी मिलों पर किसानों के बकाया की राशि बढ़कर करीब 20,000 करोड़ रुपये के करीब पहुंच चुकी है।
बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इस पर फैसला लिया गया। गन्ना किसानों के बकाया भुगतान की समस्या का हल करने के लिए केंद्र सरकार ने मंत्रियों के समूह का गठन किया था, तथा मंत्रियों के समूह ने भी सब्सिडी देने की सिफारिश की थी।
पहली अक्टूबर 2017 से शुरू हुए चालू पेराई सीजन 2017-18 में अभी तक चीनी मिलों पर किसानों के बकाया की राशि बढ़कर 20,000 करोड़ के करीब पहुंच चुकी है तथा इसमें सबसे ज्यादा बकाया उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों पर 12,526 करोड़ रुपये है। उत्तर प्रदेश के बाद सबसे ज्यादा बकाया की राशि महाराष्ट्र और कर्नाटका की चीनी मिलों पर है।
इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के अनुसार चालू पेराई सीजन में पहली अक्टूबर 2017 से मध्य अप्रैल तक चीनी का रिकार्ड उत्पादन 299.80 लाख टन हो चुका है जबकि अभी भी चीनी मिलों में पेराई चल रही है। ऐसे में चालू पेराई सीजन में चीनी का रिकार्ड 310 से 315 लाख टन उत्पादन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल केवल 203 लाख टन का ही उत्पादन हुआ था।.............   आर एस राणा

No comments: