Total Pageviews

15 May 2018

गेहूं की सरकारी खरीद 318 लाख टन के पार, भंडारण में हो सकती है परेशानी

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 में भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) समर्थन मूल्य पर 318.76 लाख टन गेहूं की खरीद कर चुकी है तथा उत्पादक मंडियों में अभी भी 4 लाख टन से ज्यादा गेहूं की दैनिक आवक हो रही है। ऐसे में खरीद तय लक्ष्य 320 लाख टन से ज्यादा ही होने का अनुमान है। एफसीआई के पास भंडारण की क्षमता 362.50 लाख टन है, 31 मार्च तक 76 फीसदी गोदाम अनाज से भरे हुए थे, ऐसे में चालू रबी में खरीदे हुए गेहूं के भंडारण में पेरशानी आ सकती है।
पिछले साल कुल 308.25 लाख टन गेहूं की हुई थी खरीद
एफसीआई के अनुसार चालू रबी में गेहूं की न्यनूतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीद बढ़कर 318.76 लाख टन की हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में 275.77 लाख टन गेहूं की खरीद ही हुई थी। पिछले साल समर्थन मूल्य पर कुल 308.25 लाख टन गेहूं ही खरीदा गया था।
पंजाब एवं हरियाणा से खरीद ज्यादा
पंजाब से चालू रबी विपणन सीजन में एमएसपी पर 124.84 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक राज्य की मंडियों से 115.59 लाख टन की खरीद ही हो पाई थी। इसी तरह से हरियाणा से गेहूं की खरीद चालू सीजन में बढ़कर 87.18 लाख टन की हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में राज्य से 73.67 लाख टन गेहूं ही खरीदा गया था।
उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में तय लक्ष्य से कम 
सबसे बड़े गेहूं उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश से चालू रबी में समर्थन मूल्य पर 30.38 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है जोकि तय लक्ष्य 40 लाख टन से तो कम है लेकिन पिछले साल की समान अवधि के 16.81 लाख टन से ज्यादा है। मध्य प्रदेश से गेहूं की खरीद बढ़कर चालू रबी में 62.40 लाख टन की हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक राज्य की मंडियों से एमएसपी पर 60.13 लाख टन गेहूं ही खरीदा गया था। मध्य प्रदेश से खरीद का लक्ष्य चालू रबी के लिए 67 लाख टन का तय किया हुआ है।
राजस्थान से खरीद बढ़ी
अन्य राज्यों में राजस्थान से चालू रबी में 12.83 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक राज्य की मंडियों से 9.40 लाख टन गेहूं ही समर्थन मूल्य पर खरीदा गया था। गुजरात से चालू रबी में समर्थन मूल्य पर 33,635 टन, उत्तराखंड से 62,617 टन और चंडीगढ़ से 14,030 टन गेहूं की खरीद हुई है।
भंडारण में आ सकती है दिक्कत
एफसीआई के पास खाद्यान्न की कुल भंडारण क्षमता 362.50 लाख टन की है। 31 मार्च 2018 को कुल भंडारण क्षमता के 76 फीसदी गोदाम खाद्यान्न से भरे हुए थे, ऐसे में चालू रबी में समर्थन मूल्य पर खरीद गए गेहूं के भंडारण के लिए निगम को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। ..... आर एस राणा

No comments: