Total Pageviews

09 April 2018

मौसम ने बढ़ाई किसानों की ​चिंता, बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान

आर एस राणा
नई दिल्ली। उत्तर भारत के साथ मध्य और दक्षिण भारत के कई राज्यों में ​बीते 24 घंटे के दौरान हुई बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में कई जगहों पर हुई बारिश से रबी फसलों गेहूं, जौ, चना, सरसों और मसूर को नुकसान हुआ है वहीं तेज आंधी ओर ओलावृष्टि से उत्तर प्रदेश में आम की फसल भी प्रभावित हुई है।
उत्तर भारत के राज्यों में रबी की प्रमुख फसल गेहूं के साथ ही अन्य फसलों की कटाई का कार्य  चल रहा है, तथा कई जगह फसल कट भी चुकी है लेकिन खेतों में ही पड़ी हुई है। बारिश से जहां फसलों की कटाई प्रभावित हुई है वही कटाई करने के बाद खेत में पड़ी गेहूं, जौ और सरसों आदि की फसलों की क्वालिटी प्रभावित होने की आशंका है।
उत्तर प्रदेश, हिमाचल तथा उत्तराखंड के कई जिलों में बारिश के साथ तेज आंधी और ओलावृष्टि से आम के साथ ही सब्जियों की फसलों को भी नुकसान हुआ है।
मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। इस दौरान उत्तरी राजस्थान, झारखंड, ओडिशा, केरल, आंतरिक तमिलनाडु, तटीय कर्नाटक पर भी हल्की बारिश देखी गई। विदर्भ, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के एक दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।
स्काईमेट के अनुमसार आगामी 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर भारत में हल्के से मध्यम बारिश होने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान, ओडिशा, तेलंगाना, केरल में कुछ स्थानों पर बारिश के आसार है।
दिल्ली, हैदराबाद, तटीय आंध्र प्रदेश, मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, कर्नाटक और तमिलनाडु में कुछ जगहों पर वर्षा की उम्मीद है।
उत्तरी भारत के मैदानी इलाकों के ज्यादातर हिस्सों में तापमान सामान्य रूप से नीचे रहेगा।................  आर एस राणा

No comments: