Total Pageviews

01 April 2018

गेहूं की खरीद का लक्ष्य 320 लाख टन, कई राज्यों में एमएसपी से नीचे बिकने की आशंका


आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर गेहूं की खरीद मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात से शुरू हो गई है तथा पहली अप्रैल से पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश तथा अन्य राज्यों से खरीद चालू हो जायेगी। गेहूं की खरीद का लक्ष्य चालू रबी में 320 लाख टन का तय किया गया है। जानकारों के अनुसार उत्पादन की तुलना में खरीद लक्ष्य कम होने के कारण उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार की कुछ मंडियों में गेहूं एमएसपी से ​नीचे बिकने की आशंका है।
भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 में एमएसपी पर 2.11 लाख टन गेहूं की सरकारी खरीद हो चुकी है इसमें सबसे ज्यादा हिस्सेदारी मध्य प्रदेश की 2.05 लाख टन है। राजस्थान से 2,000 टन और गुजरात से 4,000 टन गेहूं की खरीद हो पाई है।
जुलाई में लाल गेहूं का हो सकता है आयात
बंगलुरु स्थि​त प्रवीन कॉमर्शिलय कंपनी के प्रबंधक नवीन गुप्ता ने बताया कि यूक्रेन से आयातित लाल गेहूं का भाव बंगलुरु में 1,790 रुपये और आस्ट्रेलियाई गेहूं का भाव 1,940 से 1,950 रुपये प्रति क्विंटल है। डॉलर में यूक्रेन के गेहूं का भाव 230 डॉलर प्रति टन है, इसमें 20 फीसदी आयात शुल्क लगने के बाद वर्तमान में तो आयात पड़ते नहीं लग रहे हैं लेकिन जुलाई में यूक्रेन और रूस में गेहूं की नई फसल की आवक बनेगी, तथा इन देशों में उत्पादन ज्यादा होने का अनुमान है। इसलिए जुलाई-अगस्त में इसके भाव घटने से आयात पड़ते लग सकते हैं। 
एमएसपी से नीचे बिकने की आशंका
मथूरा स्थित बालाजी फूड प्रोडेक्टस के प्रबंधक संदीप बंसल ने बताया कि देश में गेहूं के अग्रणी उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश से गेहूं की खरीद का लक्ष्य 40 लाख टन का तय किया गया है जबकि पिछले साल सरकारी एजेंसियों ने 36.99 लाख टन की खरीद की थी। उत्पादन 300 लाख टन से ज्यादा होने का अनुमान है ऐसे में राज्य की कुछ मंडियों में एमएसपी से नीचे बिकने की आशंका है। उधर बिहार में इस साल दो लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य है जबकि पिछले साल वहां केंद्रीय पूल के लिए कोई खरीद नहीं हुई थी। बिहार की कुछ मंडियों में भी आवक बढ़ने पर इसके भाव समर्थन मूल्य से नीचे रह सकते हैं।
पंजाब-हरियाणा ने बढ़ाया खरीद लक्ष्य
इस साल केंद्र सरकार ने 320 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य रखा है जबकि पिछले साल 308 लाख टन की खरीद हुई थी। कुल खरीद में सबसे ज्यादा पंजाब में 119 लाख टन और हरियाणा में 74 लाख टन खरीद का एलान किया गया था। मगर, दोनों राज्यों में इस साल पैदावार अच्छी होने के अनुमान से पंजाब ने हाल ही में 130 लाख टन और हरियाणा ने 80 लाख टन गेहूं की खरीद की घोषणा की है। पिछले साल पंजाब में 117 और हरियाणा में 74.32 लाख टन गेहूं की सरकारी खरीद हुई थी।
मध्य प्रदेश से कम, राजस्थान से खरीद लक्ष्य ज्यादा
मध्यप्रदेश से इस रबी विपणन सीजन में 67 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य रखा गया है जबकि पिछले साल राज्य से 67.25 लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी। उधर राजस्थान से पिछले साल महज 12.45 लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी जबकि इस बार 16 लाख टन की खरीद का लक्ष्य रखा है। अन्य राज्यों में उत्तराखंड से एक लाख टन और गुजराज 50,000 टन गेहूं खरीद का लक्ष्य है। इसके अलावा 50,000 टन की खरीद अन्य राज्यों से की जायेगी।
एमएसपी में 110 रुपये की बढ़ोतरी
चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 के लिए केंद्र सरकार ने गेहूं का एमएसपी 1,735 रुपये प्रति क्विंटल तय किया है जबकि पिछले रबी विपणन सीजन में 1,625 रुपये प्रति क्विंटल की दर से खरीद हुई थी।
उत्पादन अनुमान में कमी
कृषि मंत्रालय के दूसरे आरंभिक अनुमान के अनुसार चालू रबी सीजन 2017-18 में गेहूं का उत्पादन घटकर 971.1 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 985.1 लाख टन का हुआ था। विशेषज्ञों के अनुसार मौसम अनुकूल रहा है इसलिए उत्पादन तय लक्ष्य से ज्यादा ही होने की संभावना है।.....  आर एस राणा

No comments: