Total Pageviews

23 February 2018

कीमतों को पारदर्शी बनाने के लिए चीनी की ई-ट्रेडिंग शुरू

आर एस राणा
नई दिल्ली। शुगर मिलों को चीनी की बिक्री के लिए ज्यादा से ज्यादा विकल्प उपलब्ध कराने के साथ ही खरीददारों को भी प्रतिस्पर्धात्मक भाव पर चीनी की खरीददारी में मदद करने के लिए ई-ट्रेडिंग शुरू की गई है। इससे चीनी की कीमतों को पारदर्शी बनाने में ​मदद मिलेगी।
एनसीडीईएक्स ई-मार्केट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं सीईओ राजेश सिन्हा ने बताया कि ई-प्लेटफार्म चीनी तथा इसके सह उत्पादों को बेचने के लिए एक स्थाई स्पॉट मार्केट की ​स्थापना करने तथा भविष्य में चीनी मिलों के लिए भी महत्वपूर्ण कदम होगा। भविष्य में चीनी के सह उत्पादों जैसे शीरा, इथनॉल तथा खोई की बिक्री भी शुगर मिलें इसके माध्यम से कर सकेगी।  चीनी के व्यापारियों के लिए जहां यह एक अच्छा कदम है, वहीं उपभोक्ताओं को भी इसका फायदा मिलेगा। 
चीनी कारोबारी सुधीर भालोठिया ने बताया कि चीनी की सबसे ज्यादा खपत ग्रामीण स्तर पर होती है, इसलिए ई-प्लेटफार्म के माध्यम से चीनी की खरीद-बिक्री मेट्रो शहरों में तो चालू हो जायेगी, लेकिन ग्रामीण स्तर पर इसमें समय लगेगा। 


भारतीय सहकारी चीनी कारखाना लिमिटेड (एनएफसीएसएफ) तथा भारतीय चीनी मिल्ज संघ (आईएसएमए) द्वारा संयुक्त रुप से भारतीय चीनी निर्यात-आयात निगम लिमिटेड (आईएसईसी) के ​साथ मिलकर एनसीडीईएक्स ई-मार्केट (एनईएमएल) इंडियन शुगर ई मार्केट (आईएसईएम) की स्थापना की है। इसके माध्यम से चीनी की ई-ट्रेडिंग शुरू की जायेगी।........  आर एस राणा

No comments: