Total Pageviews

27 February 2018

खाद्यान्न का रिकार्ड 27.74 करोड़ टन उत्पादन का अनुमान, गेहूं में कमी की आशंका

आर एस राणा
नई दिल्ली। फसल सीजन 2017-18 में दलहन के साथ ही कुल खाद्यान्न का रिकार्ड उत्पादन होने का अनुमान है लेकिन गेहूं के उत्पादन में कमी आने की आशंका है। कृषि मंत्रालय द्वारा जारी दूसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार खाद्यान्न का उत्पादन 27.74 करोड़ टन होने का अनुमान है जबकि फसल सीजन 2016-17 में उत्पादन 27.51 करोड़ टन का हुआ था।
भले ही दलहनों की कीमतें उत्पादक मंडियों में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से नीचे बनी हुई है लेकिन फसल सीजन 2017-18 में दालों का रिकार्ड उत्पादन 239.5 लाख टन होने का अनुमान है जबकि फसल सीजन 2016-17 में दालों का 231.3 लाख टन का हुआ था। दलहन की प्रमुख फसल चना का उत्पादन चालू रबी में रिकार्ड 111 लाख टन होने का अनुमान है। अरहर का उत्पादन 40.2 लाख टन और मूंग का उत्पादन 32.3 लाख टन होने का अनुमान जारी किया है।
मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी दूसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार बुवाई में आई कमी से गेहूं का उत्पादन फसल सीजन 2017-18 में घटकर 971.1 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल गेहूं का 985.1 लाख टन का रिकार्ड उत्पादन हुआ था। चावल का उत्पादन भी फसल सीजन 2017-18 में रिकार्ड 11.10 करोड़ टन होने का अनुमान है। मोटे अनाजों का उत्पादन बढ़कर 454.2 लाख टन होने का अनुमान है। इसमें मक्का का उत्पादन रिकार्ड 271.4 लाख टन होने का अनुमान है।
दूसरे आरंभिक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2017-18 में तिलहनों का उत्पादन 298.8 लाख टन होने का अनुमान है जोकि पिछले साल के 312.8 लाख टन से कम है। तिलहन की प्रमुख फसल सोयाबीन का उत्पादन 113.9 लाख टन, मूंगफली का उत्पादन 82.2 लाख टन और केस्टर सीड का उत्पादन 15 लाख टन होने का अनुमान है। 
कपास का उत्पादन चालू फसल सीजन में 339.2 लाख गांठ (एक गांठ-170 किलो) होने का अनुमान है जबकि पिछले साल कपास का उत्पादन 325.8 लाख गांठ का हुआ था। गन्ने का उत्पादन चालू सीजन में 3,532.3 लाख टन होने का अनुमान है। ...............  आर एस राणा

No comments: