Total Pageviews

21 October 2017

21 अक्टूबर 2017 का मौसम पूर्वानुमान

डिप्रेशन अब ओडिशा पर बना हुआ है और इसके उत्तर के ओर बढ्ने की उम्मीद है। यह सिस्टम  के आज शाम तक एक निम्न दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो जाएगा।
मध्य महाराष्ट्र और आस पास के इलाकों में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है।
पाकिस्तान के मध्य भागों में एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पर देखा जा सकता है।
 पिछले 24 घंटों के दौरान ओडिशा में अत्यधिक भारी बारिश दर्ज़ की गयी।
मध्यम से भारी बारिश नागालैंड, मिजोरम, मणिपुर, त्रिपुरा, गंगीय पश्चिम बंगाल और उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में देखी गयी।
पूर्वोत्तर राज्य, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, दक्षिण केरल, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के शेष हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई।
तेलंगाना, विदर्भ और हिमाचल प्रदेश के कुछ जगहों पर भी हल्की बारिश देखी गई।
गुरुवार को 08:30 बजे से पिछले 24 घंटों में, बालासोर में 151 मिमी वर्षा दर्ज़ की गयी, चांदबाली 120 मिमी, भुवनेश्वर 82 मिमी, फूलबनी 87 मिमी, और बारिपाड़ा 70 मिमी।
उत्तर ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, पश्चिम असम और मेघालय के कुछ हिस्सों में मध्यम भारी बारिश हो सकती है।
पूर्वोत्तर राज्यों के शेष हिस्सों में हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। एक दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
छत्तीसगढ़, पूर्व बिहार, विदर्भ, तेलंगाना, पूर्व मध्य प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप द्वीप, दक्षिण केरल और चेन्नई सहित उत्तरी तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। ...........www.skymet.com

No comments: