Total Pageviews

25 September 2017

असामान्य मौसम से खरीफ में खाद्यान्न उत्पादन में 38.6 लाख टन की कमी की आशंका

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू खरीफ में देश के कई राज्यों में असामान्य मानसून के कारण खरीफ में खाद्यान्न का उत्पादन 38.6 लाख टन घटकर 13.46 करोड़ टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ सीजन में 13.85 करोड़ टन खाद्यान्न का उत्पादन हुआ था।
कृषि मंत्रालय द्वारा जारी पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2017-18 में देश के कई राज्यों में जहां सूखे जैसे हालात रहे, वहीं कई राज्यों में बाढ़ व भारी बारिश से फसल को नुकसान की आशंका है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार चालू मानसून सीजन (जून से सितंबर) के पहले सप्ताह तक देशभर में औसत से 5 फीसदी कम बारिश हुई है। कृषि मंत्रालय के अनुसार अभी तक बारिश सामान्य हुई है।
खरीफ की प्रमुख फसल चावल का उत्पादन चालू खरीफ में 19.1 लाख टन कम होकर 94.48 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 96.39 लाख टन का हुआ था। इसी तरह से खरीफ दलहन का उत्पादन घटकर चालू खरीफ में 87.1 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ सीजन में दालों का उत्पादन 94.2 लाख टन का हुआ था। खरीफ दलहन की प्रमुख फसल अरहर का उत्पादन घटकर 39.9 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ में अरहर का उत्पादन 47.8 लाख टन का हुआ था। मूंग का उत्पादन पिछले साल के 16.2 लाख टन से घटकर 13.2 लाख टन ही होने का अनुमान है। उड़द का उत्पादन चालू खरीफ में बढ़कर 25.3 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 21.7 लाख टन का हुआ था।
मोटे अनाजों में मक्का का उत्पादन चालू खरीफ में घटकर 187.3 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ में 192.4 लाख टन मक्का का उत्पादन हुआ था। बाजरा का उत्पादन पिछले साल के 98 लाख टन से घटकर 86.6 लाख टन होने का अनुमान है। ज्वार का उत्पादन चालू खरीफ में बढ़कर 21.5 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल ज्वार का उत्पादन 18.5 लाख टन का ही हुआ था।
मंत्रालय के अनुसार खरीफ तिलहन का उत्पादन का घटकर चालू खरीफ में 206.79 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ में इसका उत्पादन 224.01 लाख टन का उत्पादन हुआ था। खरीफ तिलहन की प्रमुख फसल सोयाबीन का उत्पादन घटकर 122.17 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ में इसका उत्पादन 137.94 लाख टन का उत्पादन हुआ था। मूंगफली का उत्पादन चालू खरीफ में पिछले साल के लगभग बराबर ही 62.13 लाख टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 62.21 लाख टन का हुआ था।
पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार कपास का उत्पादन चालू खरीफ में घटकर 322.73 लाख गांठ (एक गांठ-170 किलो) होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 330.92 लाख गांठ का हुआ था। बुवाई में हुई बढ़ोतरी से चालू खरीफ में गन्ने का उत्पादन पिछले साल से ज्यादा होने का अनुमान है। ............   आर एस राणा

No comments: