Total Pageviews

07 August 2017

7 अगस्त 2017 का मौसम पूर्वानुमान



मॉनसून की अक्षीय रेखा अब अमृतसर, करनाल, शाहजापुर, गोरखपुर, गया, जमशेदपुर और बालासोर से उत्तरपूर्व बंगाल की खाड़ी तक जा रही है।
एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र झारखंड और आस-पास के इलाकों पर बना हुआ है। यह सिस्टम एक निम्न दबाव के क्षेत्र विकसित हो सकता है।
एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तरपश्चिमीअफगानिस्तानऔरपाकिस्तानपर बना हुआ है।
एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र आंतरिककर्नाटकऔरआसपासकेक्षेत्रोंपरबना हुआ है।
एक तीसरा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र कच्छ क्षेत्र और आस-पास दक्षिण पाकिस्तान में बना हुआ है।
बीते 24 घंटों के दौरान हुई बारिश
पिछले 24 घंटों में, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, ओडिशा, तटीय कर्नाटक और केरल के कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश देखी गई। एक दो स्थानों में भारी बारिश भी दर्ज़ की गयी।
उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, तटीय आंध्र प्रदेश, कोंकण और गोवा और पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई।
देश के बाकी हिस्सों में हल्की बारिश देखि गयी, वहीं दिल्ली, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, पश्चिम मध्य प्रदेश और गुजरात में मौसम लगभग शुष्क रहा।
अगले 24 घंटों के दौरान संभावित मौसम
मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश के दक्षिण-पश्चिम हिस्सों, दक्षिण कोंकण और गोवा क्षेत्र और कर्नाटक के कुछ पड़ोसी हिस्सों में आंतरिक ओडिशा, छत्तीसगढ़, पूर्व मध्य प्रदेश, और एक या दो भारी मंत्र के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
पश्चिम बंगाल, नागालैंड, मिजोरम, मणिपुर और त्रिपुरा, पूर्व उत्तर प्रदेश, आंतरिक कर्नाटक, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और अंडमान और निकोबार द्वीपों में हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। एक दो स्थानों में भारी बारिश भी हो सकती है।
कोंकण और गोवा, पश्चिम उत्तर प्रदेश के शेष हिस्से, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश होने की संभावना है, हालांकि तेलंगाना के एक दो स्थानों पर हल्की वर्षा से इंकार नहीं किया जा सकता।
देश के बाकी हिस्सों पर मौसम लगभग शुष्क रहेगा।.........www.skymet.com

No comments: