Total Pageviews

28 June 2017

मसाला कंपनियों की मांग से हल्दी में तेजी की उम्मीद

आर एस राणा
नई दिल्ली। मसाला कंपनियों के साथ ही निर्यातकों की मांग बढ़ने हल्दी की कीमतों में ओर भी 200 से 300 रुपये प्रति क्विंटल की तेजी आने का अनुमान है। बुधवार को निजामाबाद मंडी में हल्दी का भाव 6,000 रुपये और इरोड़ मंडी में 6,300 रुपये प्रति क्विंटल रहा। निजामाबाद मंडी में हल्दी की दैनिक आवक 3,500 बोरी और इरोड़ मंडी में 2,500 बोरी (एक बोरी-70 किलो) की हुई।
हल्दी में बुवाई का सीजन चल रहा है तथा इरोड़ के साथ ही सेलम में अभी तक बारिश कम हुई है जिससे इन क्षेत्रों में बुवाई में कमी आशंका है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार इरोड़ में चालू खरीफ में बारिश सामान्य से 22 फीसदी कम हुई है जबकि सेलम में 59 फीसदी कम बारिश हुई है। हालांकि प्रमुख उत्पादक राज्य तेलंगाना के निजामाबाद में बारिष 34 फीसदी और कड़प्पा में 49 फीसदी अधिक हुई है। उधर नानंदेड में चालू खरीफ में अभी तक 26 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है।
हल्दी में इस समय दैनिक आवक कम हो रही है जबकि मसाला कपंनियों के साथ ही निर्यातकों की मांग भी बढ़ रही है इसलिए हल्दी की मौजूदा कीमतों में और भी सुधार आने का अनुमान है। चालू सीजन में हल्दी की पैदावार तो ज्यादा हुई थी, साथ ही बकाया स्टॉक भी ज्यादा होने से कुल उपलब्धता ज्यादा है इसलिए बड़ी तेजी की उम्मीद नहीं है।
भारतीय मसाला बोर्ड के अनुसार वित्त वर्ष 2016-17 में हल्दी का निर्यात बढ़कर 1,16,500 टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2015-16 की समान अवधि में निर्यात 88,500 टन का हुआ था। विश्व बाजार में हल्दी का भाव 3.31 डॉलर प्रति किलो है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इसका भाव 3.57 डॉलर प्रति किलो था।........  आर एस राणा

No comments: