Total Pageviews

14 June 2017

कच्चे तेल की कीमतों पर चौतरफा दबाव

यूएस फेडरल रिजर्व ने 3 महीने में दूसरी बार ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला लिया है। हालांकि बाजार को इसके बारे में पहले से ही उम्मीद थी लिहाजा फिलहाल इसका खास असर नहीं दिखा है। लेकिन नजर रखनी होगी आज यूरोपीय और अमेरिकी बाजारों के खुलने पर। इससे पहले सोना हल्की मजबूती के साथ 1265 डॉलर के पास कारोबार कर रहा है। वहीं चांदी का दाम फिर से 17 डॉलर के पार है और इसमें करीब 1 फीसदी ऊपर कारोबार हो रहा है। कच्चे तेल में कल 4 फीसदी की भारी गिरावट के बाद आज बेहद छोटे दायरे में कारोबार हो रहा है। ग्लोबल मार्केट में क्रूड करीब 7 महीने के निचले स्तर को छू लिया है। नायमैक्स पर इसका भाव 45 डॉलर के नीचे है। जबकि ब्रेंट क्रूड में 47 डॉलर के पास कारोबार हो रहा है। ओपेक में उत्पादन कटौती के बावजूद वहां ओवर सप्लाई की स्थिति बनी हुई है। अमेरिका भी लगातार उत्पादन बढ़ा रहा है और इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी ने कहा है कि अगले साल दुनिया में रोजाना दो करोड़ बैरल डिमांड होने के बावजूद क्रूड की ओवर सप्लाई बनी रहेगी। ऐसे में कच्चे तेल की कीमतों पर चौतरफा दबाव पड़ा है। आज डॉलर के मुकाबले रुपया संभलने की कोशिश कर रहा है।

No comments: