Total Pageviews

07 June 2017

डीओसी का निर्यात 69 फीसदी ज्यादा

आर एस राणा
नई दिल्ली। मई महीने में डीओसी के निर्यात में 69 फीसदी की बढ़ोतरी होकर कुल निर्यात 97,871 टन का हुआ है जबकि पिछले साल मई में केवल 57,954 टन डीओसी का ही निर्यात हुआ था।
साल्वेंट एक्सट्रेक्टर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (एसईए) के अनुसार चालू वित्त वर्ष 2017-18 के पहले दो महीनों अप्रैल-मई में डीओसी के निर्यात में 75 फीसदी की बढ़ोतरी होकर कुल निर्यात 3,01,569 टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2016-17 की समान अवधि में इसका निर्यात 1,71,932 टन का ही हुआ था। हालांकि अप्रैल के मुकाबले मई में डीओसी के निर्यात में कमी आई है। चालू वित्त वर्ष में डीओसी के निर्यात में बढ़ोतरी का प्रमुख कारण घरेलू बाजार में तिलहनों की पैदावार ज्यादा होने के साथ ही भाव का कम होना भी माना जा रहा है।
एसईए के अनुसार मई में जहां 97,871 टन डीओसी का ही निर्यात हुआ है, वहीं अप्रैल में 2,03,689 टन डीओसी का निर्यात हुआ था। मई महीने में अप्रैल की तुलना में जहां सोया डीओसी के निर्यात में कमी आई है, वहीं सरसों डीओसी का निर्यात इस दौरान बढ़ा है। सोया डीओसी के भाव मई महीने में घरेलू बंदरगाह पर 388 डॉलर प्रति टन रहे, जबकि पिछले साल मई महीने में इसके भाव 492 डॉलर प्रति टन थे। इसी तरह से सरसों डीओसी के भाव मई 2017 में 238 डॉलर प्रति टन रहे जबकि पिछले साल मई में इसके भाव 285 डॉलर प्रति टन थे। राइसब्रान डीओसी के भाव मई में भारतीय बंदरगाह पर औसतन 173 डॉलर प्रति टन रहे जबकि पिछले साल इसके भाव 182 डॉलर प्रति टन थे। इसी तरह से केस्टर डीओसी के भाव जहां मई 2017 में 63 डॉलर प्रति टन भारतीय बंदरगाह पर रहे, वहीं पिछले साल मई में इसके भाव 70 डॉलर प्रति टन थे।    ..............    आर एस राणा

No comments: