Total Pageviews

03 February 2017

रबी फसलों की बुवाई 645 लाख हैक्टेयर के पार

गेहूं, दलहन और तिलहन की बुवाई बढ़ी, मोटे अनाजों और धान की पिछड़ी   
आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू रबी सीजन में अभी तक देशभर में 645.12 लाख हैक्टेयर में फसलों की बुवाई हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इनकी बुवाई 610.44 लाख हैक्टेयर में ही हुई थी। चालू रबी में जहां गेहूं, दलहन और तिलहन की बुवाई में बढ़ोतरी हुई है, वहीं मोटे अनाजों के साथ ही धान की रौपाई पिछे चल रही है। रबी फसलों के बुवाई अभी लगभग पूरी हो चुकी है तथा अभी तक मौसम भी फसलों के अनुकूल बना हुआ है, ऐसे में चालू रबी में गेहूं के साथ चना, मसूर, सरसों, मूंगफली, मक्का और जौ की पैदावार में तो बढ़ोतरी का अनुमान है लेकिन बुवाई में आई कमी से ज्वार और धान की पैदावार कम होगी।
कृषि मंत्रालय के अनुसार रबी की प्रमुख फसल गेहूं की बुवाई बढ़कर 317.81 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक केवल 297.25 लाख हैक्टेयर में ही बुवाई हो पाई थी। रबी दहलन की बुवाई चालू सीजन में रिकार्ड 159.72 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 143.70 लाख हैक्टेयर में बुवाई हुई थी।
रबी दलहन की प्रमुख फसल चना की बुवाई 99.01 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इसकी बुवाई 89.45 लाख हैक्टेयर में ही हुई थी। मसूर की बुवाई भी बढ़कर चालू रबी में अभी तक 16.65 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक केवल 13.73 लाख हैक्टेयर में बुवाई हुई थी। मटर की बुवाई भी चालू रबी में बढ़कर 11.26 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक केवल 9.59 लाख हैक्टेयर में ही बुवाई हो पाई थी।
रबी तिलहनों की बुवाई चालू सीजन में अभी तक 84.34 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 79.42 लाख हैक्टेयर में ही बुवाई हुई थी। रबी तिलहन की प्रमुख फसल सरसों की बुवाई 70.56 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल की समान अवधि में इसकी बुवाई 64.53 लाख हैक्टेयर में ही हो पाई थी। मूंगफली की बुवाई चालू रबी में बढ़कर 6.16 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 5.96 लाख हैक्टेयर में ही बुवाई हुई थी।
चालू रबी में मोटे अनाजों की बुवाई अभी भी पिछे चल रही है, अभी तक देषभर में केवल 57.61 लाख हैक्टेयर में ही मोटे अनाजों की बुवाई हुई है जबकि पिछले साल इस समय तक 61.05 लाख हैक्टेयर में इनकी बुवाई हो चुकी थी। मोटे अनाजों में सबसे ज्यादा कमी ज्वार की बुवाई में आई है। ज्वार की बुवाई चालू रबी में अभी तक केवल 32.22 लाख हैक्टेयर में ही हो पाई है जबकि पिछले साल इस समय तक 37.43 लाख हैक्टेयर में बुवाई हो चुकी थी। रबी मक्का की बुवाई भी चालू सीजन में अभी तक 16.50 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 15.07 लख हैक्टेयर में इसकी बुवाई हुई थी। जौ की बुवाई चालू रबी में 8.16 लाख हैक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 7.59 लाख हैक्टेयर में बुवाई हुई थी। धान की रोपाई चालू रबी में अभी तक केवल 25.64 लाख हैक्टेयर में ही हो पाई है जबकि पिछले साल इस समय तक 29.03 लाख हैक्टेयर में धान की रोपाई हो चुकी थी।............आर एस राणा

No comments: