Total Pageviews

30 April 2016

चावल की सरकारी खरीद ज्यादा, बासमती चावल का निर्यात बढ़ा, गैर बासमती का घटा

आर एस राणा
नई दिल्ली। खरीफ विपणन सीजन 2015-16 में चावल की सरकारी खरीद 312.53 लाख टन की हो चुकी है जोकि पिछले साल की समान अवधि के 264.83 लाख टन से ज्यादा है। धान के साथ ही चावल की कीमतों में गत सप्ताह तेजी आई थी लेकिन चावल की निर्यात मांग कम होने के कारण हाल ही कीमतों में नरमी आई है। चालू वित वर्ष में देष से गैर-बासमती  चावल के निर्यात में काफी कमी देखी जा रही है।
एपिडा के अनुसार चालू वित वर्ष 2015-16 के पहले 9 महीनों अप्रैल से दिसंबर के दौरान देष से 30.69 लाख टन बासमती चावल का निर्यात हुआ है जबकि इस दौरान 47.22 लाख टन गैर बासमती चावल का निर्यात हुआ है। वित वर्ष 2014-15 की समान अवधि में देष से 25.68 लाख टन बासमती चावल का निर्यात हुआ था तथा 60.82 लाख टन गैर-बासमती चावल का निर्यात हुआ था।
जानकारों के अनुसार बासमती चावल का निर्यात आगे बढ़ेगा, जबकि राइस मिलों के पास बासमती धान का स्टॉक कम है जिससे पूसा-1121 बासमती धान और बासमती धान की मौजूदा कीमतों में हल्का सुधार आ सकता है। हालांकि चालू खरीफ में मानसून अच्छा रहने का अनुमान है जिससे भारी तेजी की संभावना नहीं है।.......आर एस राणा

No comments: